Google+ Followers

Friday, 8 July 2016

और सच कहूँ तो तेरे सिवा कुछ नहीं।

उदास हूँ पर तुझसे नाराज़ नहीं,
तेरे दिल में हूँ पर तेरे पास नहीं,
झूठ कहूँ तो सब कुछ है मेरे पास,
और सच कहूँ तो तेरे सिवा कुछ नहीं।
Post a Comment