Tuesday, 5 July 2016

Dard Se Dosti

दर्द से दोस्ती हो गई यारों,
जिंदगी बे दर्द हो गई यारों,
क्या हुआ जो जल गया आशियाना हमारा,
दूर तक रोशनी तो हो गई यारो।

No comments:

Spinner

Sppinner