Monday, 4 July 2016

Mohhbat Ko Tars Gye

अजीब रंगों में गुज़री है मेरी ज़िन्दगी,
दिलों पे राज किया पर मुहब्बत को तरस गए..

No comments:

Spinner

Sppinner