Saturday, 2 July 2016

Thank U

मैं तूझसे नाराज़ क्यों होऊँ दोस्त, तूने मेरा क्या बिगाड़ा है...शुक्रगुज़ार हूँ तेरे वक़्त के लिये, जो तूने मेरे संग गुज़ारा है....🤐‪#

No comments:

Spinner

Sppinner