Google+ Followers

Friday, 14 April 2017

क्यूँ तकलीफ होती...

अब क्यूँ तकलीफ होती है तुम्हें इस बेरुखी से, 

तुम्हीं ने तो सिखाया है कि दिल कैसे जलाते हैं।
Post a Comment